सीईओ द्वारा कराये गए सर्वे के मुताबिक भारत निवेश के लिए दुनिया के  पांचवे सबसे आकर्षित बाजार के रूप में उभरा है। वैश्विक आर्थिक वृद्धि की आशा रिकॉर्ड स्तर पर है। य़दि हुम आंकड़ों की माने तो, भारत ने इस मामले में जापान को भी पछाड़ दिया है. इस  सर्वे की जानकारी प्राप्त होने के बाद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी बेहद उत्साहित नज़र आये। फिलहाल, दावोस में सोमवार और मंगलवार को विदेशी निवेशकों से मुलाकात के दौरान, नरेंद्र मोदी यह कोशिश करेंगे की अधिक से अधिक विदेशी निवेशक भारत में निवेश करें। सूत्रों की माने तो, विदेशी निवेश मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में हो सकता है। यह कदम भारत के रोजगार निर्माण के लिए अहम है।

इससे  पूर्व इंटरनेशनल मॉनिट्री फंड (IMF) द्वारा भी  अनुमान लगाया गया की भारत तेज़ी से विकसित होगा। यदि हम इंटरनेशनल मॉनिट्री फंड की माने तो 2018 में 7.4 फीसदी की वृद्धि दर से भारत सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था होगी।

अचंभित करने वाली यह बात सामने आई है कि निवेशकों के लिए भारत दुनिया की पांचवीं सबसे आकर्षक जगह है।

इस सर्वे में अमेरिका पहले स्थान पर था, जब की  चीन दूसरे और जर्मनी तीसरे स्थान पर था. निवेशकों के लिए दुनिया के चौथे स्थान पर ब्रिटेन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *